Posts

Showing posts from January, 2019

फिर से मिलना ज़रूर!

Image
इस व्यस्त जीवन के उस पार जहाँ ना हो ख्वाहिशों का पहाड़ जहाँ मिलना बिछड़ना ना हो बार बार
वहाँ, फिर से मिलना ज़रूर!

जब ज़िन्दगी की रेल थोड़ी धीमी चले जब तेरा दिल मुझसे मिलने को करे जब तू खुल कर एतबार कर सके तब, फिर से मिलना ज़रूर!

जिस दिन तेरी आँखों में ना हो गुरूर जिस दिन तू मान ले मुझे बेकसूर जिस दिन तुझपर हो इश्क़ का फितूर उस दिन, फिर से मिलना ज़रूर!

फिर से मिलना ज़रूर!